एमएस धोनी पर भड़के वीरेंद्र सहवाग, कहा- 2-3 मैच का लगना चाहिए था बैन

3
5

नई दिल्ली। आईपीएल ( IPL ) में गुरुवार को चेन्नई सुपरकिंग्स ( CSK ) का मुकाबला राजस्थान रॉयल्स ( rr ) से था । इस मैच में टीम चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ( MS Dhoni ) नो बॉल विवाद को लेकर फील्ड अंपायरों से उलझ गए, वो भी तब जब वो आउट होकर मैदान से बाहर जा चुके थे। धोनी के इस रवैये की कड़ी आलोचना हो रही है। तमाम दिग्गज क्रिकेटरों ने धोनी के गुस्से की कड़ी निंदा की है। इस बीच भारतीय टीम के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ( Virendra Sehwag ) ने भी इस मामले को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

धोनी पर दो या तीन मैचों का प्रतिबंध लगना चाहिए था- सहवाग

सहवाग ने कहा है कि धोनी पर कम से कम दो या तीन मैचों का प्रतिबंध लगना चाहिए था। आपको बता दें कि इस घटना को लेकर बीसीसीआई ( BCCI ) ने धोनी पर मैच फीस का 50 प्रतिशत जुर्माना लगाया था। सहवाग ने एक अंग्रेजी वेबसाइट से बात करते हुए धोनी के फैसले को गलता बताया। सहवाग ने कहा कि मेरे ख्याल से धोनी को मैदान पर नहीं उतरना चाहिए था। वहां मैदान पर बल्लेबाज थे, जो अंपायर्स से नोबॉल पर चर्चा कर लेते।

धोनी ये गुस्सा टीम इंडिया के लिए करते तो अच्छा लगता- सहवाग

सहवाग ने धोनी को दी गई सजा को लेकर कहा कि अंपायर से बहस करने के बाद धोनी पर दो या तीन मैच का प्रतिबंध लगना चाहिए था। इससे अंपायर्स की अहमियत पता चलती। सहवाग ने आगे कहा कि धोनी यदि भारतीय क्रिकेट टीम के लिए ऐसा करते तो मुझे खुशी होती। मैंने उन्हें टीम इंडिया ( Team India ) के लिए इस तरह फील्ड में गुस्से होते नहीं देखा। मुझे लगता है कि वह चेन्नै की टीम के लिए ज्यादा भावुक हो गए।

बिशन सिंह बेदी भी जता चुके हैं हैरानी

सहवाग से पहले पूर्व भारतीय कप्तान बिशन सिंह बेदी ( Bishan Singh Bedi ) की भी इस मामले पर प्रतिक्रिया आ चुकी है। उन्होंने सजा को मजाक बताया था। बिशन सिंह बेदी ने ट्वीट कर कहा था, ‘मीडिया ने धोनी के कल रात मैदान के अंदर आने को अंपायरों के खिलाफ बेहद अपरिपक्व विरोध करार दिया है, जिस पर मैं हैरान हूं। मेरे लिए यह अबूझ पहेली है कि खेल पत्रकार गलती करने वाले स्थापित सितारों के खिलाफ ईमानदार अभिव्यक्ति करने से क्यों बचते हैं।’

यह भी पढ़ें:- IPL 2019: डेल स्टेन की 2 साल बाद IPL में होगी वापसी, जल्द जुड़ेंगे RCB से

मैदान पर जाकर अंपायर से उलझ गए थे धोनी

आपको बता दें कि राजस्थान रॉयल्स (RR) के खिलाफ ‘नोबॉल’ फैसले को लेकर चेन्नै सुपर किंग्स (CSK) के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी मैदान पर उतर गए थे और फील्ड अंपायर्स से बहस भी की थी। इस गर्मागर्म बहस के बाद मैच रेफरी ने उन्हें आचार संहिता के उल्लंघन का दोषी मानते हुए मैच फीस के पचास प्रतिशत का जुर्माना लगाया था।

Source: Patrika cricket
एमएस धोनी पर भड़के वीरेंद्र सहवाग, कहा- 2-3 मैच का लगना चाहिए था बैन

Comments are closed.