ख्वाजा साहब का जश्ने विलादत शुरू, शान औ शौकत से पेश की चादर

0
7

महान सूफी संत हजरत ख्वाजा मोईनुद्दीन हसन चिश्ती का 899वां दो दिवसीय जश्‍ने विलादत गुरुवार से दरगाह में शुरू हुआ। खुशी के इस मौके पर आशिकान ए ख्वाजा ने हाजी सैयद मुकद्दस मोईनी की सरपरस्ती में शान औ शौकत से चादर पेश की। रात को हुई महफिल में भी बड़ी संख्या में अकीदतमंद शरीक हुए। जश्न के लिए दरगाह परिसर में विशेष सजावट की गई है। दरगाह के निजाम गेट से शाम 5.30 बजे से जुलूस की शुरूआत हुई। सूफियाना कलाम के बीच निकले जुलूस की अगुवाई हाजी सैयद मुकद्दस हुसैन मोईनी और साहिबजादा सैयद हिमायत हुसैन मोईनी कर रहे थे। जुलूस बुलंद दरवाजे होते हुए आस्ताना शरीफ पहुंचा। मजार शरीफ पर चादर और अकीदत का नजराना पेश कर सूबे व मुल्क में अमन व खुशहाली के लिए दुआ की गई। देर रात तक सजी महफिल, गूंजी शहनाई-बजे शादियाने दरगाह के अहाता ए नूर में आस्ताना शरीफ मामूल होने के बाद रात 10 बजे से जश्‍ने विलादत की महफिल का आगाज संदल खाना मस्जिद के पेश इमाम हाफिज मोहम्मद रमजान की कुरान शरीफ की तिलावत से हुई। सैयद मोहम्मद मेहंदी मियां, मोलाना बशीरउल कादरी, काजी कौंसिल ऑफ राजस्थान के महासचिव मौलाना फजले हक कोटवी व प्रख्यात इस्लामी विद्वान मुफ्ती मोहम्मद अतहर हसन जियाई ख्वाजा साहब व उनके बताए मार्ग पर चलने आदि विषयों पर तकरीर की। बज्मे ख्वाजा फख्र सरवाड़, शायर नाजिमुद्दीन नाजिम, सैयद इमरान चिश्ती खाजगानी, सैयद मोहम्मद मोईन हाशमी, हाजी सुल्तान महाबारी नात मनकबत के नजराने पेश किए। सैयद शाहीन मोईनी ने शिजरा ख्वानी की। दरगाह बड़े पीर मार्ग स्थित तकिया गदर शाह से ख्वाजा गरीब नवाज के सम्मान में 21-21 तोपों की सलामी दी गई। निजाम गेट पर शहनाई व शादियाने बजाए गए।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Ajmer News – rajasthan news celebrate the celebration of khwaja saheb a shade offered by shaan and shaukat

Source: Rajastahn
ख्वाजा साहब का जश्ने विलादत शुरू, शान औ शौकत से पेश की चादर