देर रात थाने पर पीडि़ता की शिकायत नहीं लेने पर हैडकांस्टेबल निलंबित

0
1

ब्यावर सिटी थाना : मारपीट और बलात्कार के प्रयास की शिकायत लेकर पहुंची थी, एसपी से गुहार पर कार्रवाई

अजमेर/ ब्यावर. मारपीट व बलात्कार के प्रयास की शिकायत लेकर थाने पहुंची पीडि़ता की रिपोर्ट न लेकर उसे दूसरे दिन बुलाने वाले ब्यावर सिटी थाने के हैडकांस्टेबल (दीवान) को पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप ने सोमवार को निलंबित कर दिया। सोमवार को पीडि़ता ने पुलिस अधीक्षक के समक्ष फरियाद लगाई थी। एसपी ने गंभीरता से लेते हुए ड्यूटी पर मौजूद हैडकास्टेबल को निलंबित कर दिया।

ब्यावर सिटी थाने में 19 मई की रात 11 बजे मारपीट व बलात्कार के प्रयास के मामले में शिकायत लेकर पहुंची महिला को ड्यूटी पर तैनात हैडकांस्टेबल रामधन ने लौटा दिया। हैडकांस्टेबल ने उसे दूसरे दिन सोमवार को रिपोर्ट लेकर आने को कहा और पीडि़ता का मेडिकल भी नहीं करवाया। पीडि़ता सोमवार सुबह ब्यावर सिटी थाने न जाकर एसपी के समक्ष पेश हो गई और अपनी पीड़ा बयान की। एसपी के आदेश पर परिवादिया की शिकायत पर घर में घुसकर महिला से मारपीट, बलात्कार का प्रयास का मुकदमा दर्ज कर अनुसंधान शुरू कर दिया गया।

विभागीय जांच शुरू

एसपी राष्ट्रदीप ने मामले में ड्यूटी पर तैनात हैडकांस्टेबल रामधन की ओर परिवादिया के साथ किए गए व्यवहार को गंभीरता से लेते निलंबित कर दिया। वहीं उसके खिलाफ विभागीय जांच शुरू कर दी।

यह थी लापरवाही

हैडकांस्टेबल रामधन को पीडि़ता के शिकायत देने पर तुरन्त परिवादिया के ससुराल पक्ष को बुलवाने या स्वयं परिवादिया के साथ जाकर घटना की तस्दीक करने की जरूरत थी।

अलवर प्रकरण से सबक

हाल में अलवर में दलित महिला से हुए सामूहिक बलात्कार और सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल की घटना के बाद पुलिस की कार्यशैली पर उठे सवालों पर अजमेर जिले में भी महिला अपराध पर विशेष सतर्कता बरतती जा रही है। एसपी कुंवर राष्ट्रदीप ने गत दिनों पुलिस अधिकारियों की बैठक लेकर महिला अपराध से संबंधित प्रकरण में सुनवाई और त्वरित कार्रवाई की नसीहत दी थी।

इनका कहना है…

ड्यूटी पर तैनात हैडकांस्टेबल को पीडि़ता की बात सुनने के बाद उसके परिजन को रात में ही बुलाना चाहिए था। जांच में हैडकांस्टेबल की अनदेखी सामने आई है। एसएचओ की रिपोर्ट पर निलंबित करते हुए विभागीय जांच करवाई जा रही है।

कुंवर राष्ट्रदीप, पुलिस अधीक्षक अजमेर

Source: Ajmer Patrika
देर रात थाने पर पीडि़ता की शिकायत नहीं लेने पर हैडकांस्टेबल निलंबित