पौराणिक काल की है पुष्कर घाटी, अब यूं दिखेगी नए रूप में

0
4

अजमेर.

नौसर घाटी स्थित महाराणा प्रताप स्मारक पर जल्द ही राष्ट्रीय ध्वज लहराता नजर आएगा। बीस मीटर ऊंचा यह ध्वज शहर के किसी भी कोने से देखा जा सकेगा। अजमेर विकास प्राधिकरण ने इसकी तैयारी शुरू कर दी है। शहर मेंं अभी तक महर्षि दयानन्द सरस्वती विश्व विद्यालय तथा रेलवे स्टेशन पर 100-100 मीटर के राष्ट्रीय ध्वज लगाए गए हैं। इन झंडों को कभी उतारा नहीं जाता है। फटने आदि की स्थिति में तिरंगे को बदल दिया जाता है।

नाग पहाड़ी पर लिखा जाएगा अजमेर

जोधपुर व उदयपुर की तर्ज अजमेर में भी नाग पहाड़ी पर सेल्फी पॉइंट के रूप में बड़े अक्षरों में अजमेर लिखा जाएगा। यह एक तरह से जिले की पहचान के रूप में नजर आएगा। राज्य में जोधपुर शहर में रातानाडा गणेशजी की पहाड़ी सहित चार जगहों पर जोधपुर शहर के नाम को बड़े अक्षरों में लिखा जा चुका है। यह लोगों का सेल्फी पॉइंट भी है।

चौपाटी पर बनेंगे सेल्फी पॉइंट :

अजमेर विकास प्राधिकरण की ओर से आनासागर झील के किनारे चौपाटी पर सेल्फी प्वाइंट बनाया जाएगा। इस सेल्फी पाइंट पर आई लव अजमेर या स्मार्टसिटी अजमेर नाम को बड़े-बड़े अक्षरों में लिखा जाएगा।

बनेंगे प्रवेश द्वार

अजमेर शहर में प्रवेश के लिए प्रमुख मार्गों पर प्रवेश द्वार बनाए जाएंगे ताकि इनमें से प्रवेश करते ही व्यक्ति को अजमेर शहर में आने का एहसास हो जाए। अभी शहर में जयपुर रोड, ब्यावर रोड से फ्लाई ओवर के नीचे से ही प्रवेश करना पड़ता है। प्रवेश द्वार होने से प्रवेश करते ही पता चल जाएगा कि अजमेर शहर में दाखिल हो चुके हैं। अभी तक प्रमुख प्रवेश मार्ग पर गैंट्री बोर्ड लगा कर प्रवेश की सूचना प्रदर्शित की गई है। प्राधिकरण अपने 20 यूनीपोल के जरिए अपनी योजनाओं तथा प्रोजेक्ट का प्रचार प्रसार करेगा। इसके लिए डिजाइन तैयार किए जा रहे हैं।

एडीए का प्रवेशद्वार होगा आकर्षक

अजमेर विकास प्राधिकरण अपने भवन के प्रवेश द्वार को भी आकर्षक बनाएगा। प्रवेश द्वार तथा अन्य जगहों पर एडीए द्वारा निर्मित स्मारकों के चित्र प्रदशित किए जाएंगे। इसके अलावा दीवारों पर आकर्षक पेंटिंग की जाएगी। प्राधिकरण अभियंताओं ने इसके लिए एक्सपर्ट के साथ बैठक कर योजना को अंतिम रूप दिया है।

Source: Ajmer Patrika
पौराणिक काल की है पुष्कर घाटी, अब यूं दिखेगी नए रूप में