वर्ल्ड सिंगल्स रैंकिंग में टॉप पर पहुंचने वाली पहली एशियाई बन सकती हैं ओसाका

3
28

खेल डेस्क. जापान की नाओमी ओसाका और चेक गणराज्य की पेट्रा क्वितोवा ने गुरुवार को ऑस्ट्रेलियन ओपन में वुमन्स सिंगल्स के फाइनल में जगह बनाई। 21 साल की ओसाका टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचने वाली जापान की पहली और एशिया की दूसरी खिलाड़ी हैं। शनिवार को होने वाले खिताबी मुकाबले में ओसाका अगर क्वितोवा को हरा देती हैं तो वे चैम्पियन बनने के साथ हीवर्ल्ड रैंकिंग में भी टॉप पर पहुंच जाएंगी। अगर वे ऐसा कर पाईं तो सिंगल्स की वर्ल्ड रैंकिंग में टॉप पर पहुंचने वाली एशिया की पहली टेनिस खिलाड़ी बन जाएंगी।चीन की ली ना वर्ल्ड रैंकिंग में दो नंबर तक पहुंची थींवर्ल्ड रैंकिंग में एशियाई खिलाड़ियों के प्रदर्शन की बात की जाए तो इस मामले में अभी चीन की ली ना शीर्ष पर हैं। फ्रेंच ओपन और ऑस्ट्रेलियन ओपन का खिताब जीत चुकींली ना के करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग दो थी। जो उन्होंने 17 फरवरी 2014 को हासिल की थी। उनके अलावा कोई भी एशियाई रैंकिंग में दो नंबर तक नहीं पहुंच पाया है। हालांकि, डबल्स में भारत के लिएंडर पेस, महेश भूपति और सानिया मिर्जा वर्ल्ड नंबर वन रहे चुके हैं।अभी हालेप शीर्ष पर, लेकिन वे चौथे दौर में ही हार गईं थींताजा डब्ल्यूटीए रैंकिंग में रोमानिया की सिमोना हालेप शीर्ष पर हैं। उनके 6642 अंक हैं। वे ऑस्ट्रेलियन ओपन जीतने की भी प्रबल दावेदार थीं, लेकिन चौथे दौर में सेरेना ने उन्हें हराकर बाहर का रास्ता दिखा दिया। चौथे दौर यानीप्री-क्वार्टर फाइनल खेलने के कारण उन्हें 240 अंक मिलेंगे। इससे उनके कुल अंक 6882 अंक हो जाएंगे।फाइनल जीतने पर हालेप को पीछे छोड़ देंगीओसाकाओसाका अभी वर्ल्ड रैंकिंग में चौथे नंबर पर हैं। उनके 5270 अंक हैं। ग्रैंड स्लैम का फाइनल जीतने वालीखिलाड़ी को 2000 अंक मिलते हैं। ओसाका यदि खिताबी मुकाबले में क्वितोवा को हरा देती हैं तो उनके कुल 7270 अंक हो जाएंगे। इस हिसाब से वे वर्ल्ड रैंकिंग में टॉप पर पहुंच जाएंगी।ओसाका फाइनल जीतने पर सेरेना की बराबरी करेंगीओसाका अगर फाइनल जीत गईं तो वे चार साल बाद यूएस ओपन और ऑस्ट्रेलियन ओपन लगातार जीतने वाली खिलाड़ी बन जाएंगी। अमेरिका की सेरेना विलियम्स ऐसा तीन बार कर चुकी हैं। सेरेना 2002 में यूएस ओपन और 2003 में ऑस्ट्रेलियन ओपन, 2008 में यूएस ओपन और 2009 में ऑस्ट्रेलियन ओपन और 2014 में यूएस ओपन और 2015 में ऑस्ट्रेलियन ओपन चैम्पियन बनी थीं।ओसाका के हारने पर पहली बार टॉप पर पहुंचेंगी क्वितोवाओसाका अगर फाइनल हार जाती हैं तो उन्हें 1300 और क्वितोवा को 2000 अंक मिलेंगे। क्वितोवा अभी छठे नंबर पर हैं और उनके 5000 अंक हैं। इसका मतलब है कि ऑस्ट्रेलियन ओपन का चैम्पियन बनने पर क्वितोवा भी वर्ल्ड नंबर बन जाएंगी। वे भी पहली बार टॉप पर पहुंचेगीं। अब तक उनकी हाइएस्ट रैंकिंग दो है, जो उन्होंने 31 अक्टूबर 2011 को हासिल की थी।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today




Tennis: Naomi Osaka has chance become first Asian to reach Top in world ranking





Tennis: Naomi Osaka has chance become first Asian to reach Top in world ranking





Tennis: Naomi Osaka has chance become first Asian to reach Top in world ranking





Tennis: Naomi Osaka has chance become first Asian to reach Top in world ranking





Tennis: Naomi Osaka has chance become first Asian to reach Top in world ranking



Source: Cricket Support

Comments are closed.