विजेता छात्राओं को दिए पारितोषिक

0
38

राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय परिसर में राष्ट्रीय बालिका दिवस सप्ताह के अन्तर्गत कई प्रतियोगिता एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम हुआ। महिला एवं बाल विकास अधिकारी मेरिंगटन सोनी ने मां सरस्वती की तस्वीर के समक्ष दीपप्रज्वलित कार्यक्रम शुरू किया। बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ शीर्षक के अन्तर्गत निबन्ध प्रतियोगिता, प्रश्नोत्तरी, कविता गायन, पोस्टर प्रतियोगिता एवं नुक्कडऩाटक का मंचन किया गया। निबन्ध प्रतियोगिता में मीना माली, शलिनी सुहाल, शालू नायक कविता गायन में आरती बैरवा, सना अफरोज, लिव्यांशी, पोस्टर प्रतियोगिता में ईशा व वर्षा, प्रियंका मेरूठा, कविता प्रजापत एवं इशरत जहां विजेता रही। विजेता छात्राओं को अतिथियों ने पुरस्कृत किया। इस अवसर पर प्रधानाचार्या आभा शर्मा, हंसा सोनी, कार्यक्रम प्रभारी हंसा सोनी, सैयदा सबीहा, रजनी नामा, मैनेजर मीणा, राजेन्द्र कुशवाह, अजय प्रियंका, शीनम, गजेन्द्र, रीना, गोविन्द आदि मौजूद थे। निबंध प्रतियोगिता का आयोजन व कृषि संबंधी योजनाओं के बारे में बताया देवली| पंडित दीनदयाल उपाध्याय कृषि महाविद्यालय में एनएसएस शिविर के दौरान निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। किसान की आय को दोगुना कैसे किया जाए विषय आयोजित विद्यार्थियों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया। एनएसएस प्रभारी सत्यनारायण रेगर द्वारा विद्यार्थियों का उत्साह वर्धन किया गया । शिविर के द्वितीय सत्र में पूर्व संयुक्त निदेशक कृषि अशोक शर्मा ने कहा कृषि से संबंधित नई योजनाओं के बारे में विद्यार्थियों को अवगत कराया और डिप्टी डायरेक्टर कम प्रोजेक्ट डायरेक्टर आत्मा टोंक दिनेश कुमार बेरवा ने बताया कि किसानों की आय को दोगुना कैसे किया जाए पर व्याख्यान दिया। पशु चिकित्साधिकारी ने दी छात्रों को कई जानकारी उनियारा| राजकीय संस्कृत माध्यमिक विद्यालय में पशु चिकित्साधिकारी डॉ. छोटूलाल बैरवा ने छात्र-छात्राओं को पशुओं में होने वाली बीमारियों की रोकथाम की जानकारी दी। 31 जनवरी तक पशुपालन विभाग द्वारा विशेष पखवाड़ा चलाया जा रहा है। पशुओं के प्रति दया, करूणा एवं कल्याण हेतु जागृति फैलाने के उद्देश्य से गोष्ठी का आयोजन कर कई जानकारी देते हुए बताया कि पशुओं की लड़ाई करवाना, पशुओं को बिजली के खंभों से बांधना, भूखा रखना पशुक्रूरता के अधिनियम के तहत अपराध की श्रेणी में आता है।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Source: Rajastahn