सही समय पर चुकाएंगे टैक्स तो पीएम नरेंद्र मोदी के साथ मिलेगा चाय पीने का मौका

0
1

नई दिल्ली। ईमानदारी और पूरा टैक्स देने वालों को प्रोत्साहित करने के लिए नरेंद्र मोदी सरकार नई योजना पर काम कर रही है। योजना के अनुसार सबसे ज्यादा टैक्स चुकाने वाले लोगों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय वित्त मंत्री के साथ चाय पीने का मौका मिलेगा। वैसे सरकार ने पहले से ही इंसेंटिव देने की योजना चला रही है। लेकिन जानकारों का कहना है कि पीएम मोदी के साथ चाय पीने की योजना और कारगर और लोगों को प्रोत्साहित करने वाली होगी। आपको बता दें कि 2018-19 के वित्तीय वर्ष टैक्स कलेक्शन में कमी देखने को मिली थी। जिसे बढ़ाने के लिए इस योजना सहारा लिया जाएगा।
यह भी पढ़ेंः- क्रूड ऑयल की कीमतें गिरने से शेयर बाजार में तेजी, सेंसेक्स में 200 अंकों का उछाल
ताकि इनकम टैक्स कलेक्शन बढ़ाया जा सकेमीडिया रिपोर्ट के अनुसार सरकार द्वारा इस योजना को लाने का मकसद इनकम टैक्स कलेक्शन में बढ़ोतरी करना है। नरेंद्र मोदी की नई सरकार टैक्स सिस्टम को ज्यादा प्रोग्रेसिव बनाने में जुटी हुई है। नई सरकार अपने पहले बजट में इस बररे में कोई बड़ी घोषणा भी कर सकती है। वहीं नरेंद्र मोदी ने टैक्सपेयर्स को कर चुकाने के लिए धन्यवाद दिया है। वहीं
यह भी पढ़ेंः- एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया की इच्छा, उनके एयरपोर्ट से उड़े ज्यादा से ज्यादा विदेशी उड़ान
पर्सनल इनकम टैक्स का टारगेट नहीं हो सका पूरा अगर पर्सनल इनकम टैक्स कर करें तो 5.29 लाख करोड़ रुपये का टारगेट रखा गया था। लेकिन इसमें भी करीब 50,000 करोड़ रुपये की गिरावट हुई और लक्ष्य पूरा नहीं हुआ। इसके चलते ही वित्तीय वर्ष 2018-19 में डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन में कमी आई है। वहीं कॉर्पोरेट टैक्स के लिए 6.71 लाख करोड़ रुपये का लक्ष्य रखा गया था और मामूली अंतर के साथ यह लक्ष्य पूरा हुआ है।
यह भी पढ़ेंः- सोना ढाई सप्ताह के उच्चतम स्तर पर, चांदी के दाम फिसले
एडवांस टैक्स के कलेक्शन में कमीअगर बात एडवांस टैक्स की करें तो कुल 11.5 लाख करोड़ रुपए का रखा गया था। जिसमें से 5 लाख करोड़ रुपए का टैक्स चुकाया गया। अडवांस टैक्स एक वित्तीय वर्ष में सैलरी, बिजनस, प्रफेशन, रेंट जैसे सोर्स से होने वाली टोटल इनकम पर लगता है। अडवांस टैक्स को वित्तीय वर्ष खत्म होने से पहले ही जमा कराना होता है। जिसकी वजह से सरकार की ओर से नई योजना लेकर आई है। सरकार को भरोसा है कि पीएम मोदी के साथ चाय पीने के लिए हर कोई टैक्स ईमानदारी से चुकाएगा।
यह भी पढ़ेंः- Today Petrol diesel price: पांच दिन में पेट्रोल के दाम में 56 पैसे प्रति लीटर की कटौती, डीजल हुआ 93 पैसे सस्ता
ऐसे मिला आइडिया इस बार 31 मार्च को खत्म हुए वित्तीय वर्ष में डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन सरकार के रिवाइज्ड टारगेट से भी कम रहा है। सरकार ने 12 लाख करोड़ रुपए टैक्स कलेक्शन किया था। जिसके बाद टैक्स अधिकारियों को पीएम मोदी के चाय पीने का आइडिया आया। जिसके बहाने देश के लोग ज्यादा से ज्यादा टैक्स भर सकें। वास्तव में सरकार को इस बार काफी फंड की जरुरत है। ताकि घोषित वेलफेयर योजनाओं को बेहजर तरीके से चला सके। इसके लिए टैक्स का पूरा आना काफी जरूरी है।
Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार, फाइनेंस, इंडस्‍ट्री, अर्थव्‍यवस्‍था, कॉर्पोरेट, म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App.
Source: business patrika
सही समय पर चुकाएंगे टैक्स तो पीएम नरेंद्र मोदी के साथ मिलेगा चाय पीने का मौका