सीबीएसई में कक्षा 12वीं तक कला शिक्षा अनिवार्य

0
4

बांसवाड़ा| सीबीएसई ने पहली से 12वीं कक्षा तक कला शिक्षा को अनिवार्य रूप से स्कूलों को पढ़ाने के निर्देश जारी किए हैं। बोर्ड ने कला के महत्व को शिक्षा में समझते हुए यह निर्णय लिया है। सीबीएसई ने अपने सभी संबद्ध स्कूलों को 2019-20 के शैक्षणिक सत्र से इसे लागू करने को कहा है। इसके लिए कई स्कूलों, प्रधानाध्यापकों, शिक्षकों, एनसीईआरटी सहित अन्य लोगों से इस संबंध में संपर्क साधा है। बोर्ड का मानना है शिक्षा में कला को समाहित करने से शिक्षण रुचिकर और बेहतर होगा। बोर्ड के अनुसार कला शिक्षा को कक्षा 1 से 12 तक प्रति सप्ताह दो कालांश लगाए जाएंगे। कला शिक्षा को दृश्य और श्रव्य दोनों माध्यमों में पढ़ाया जाएगा। इसमें चार विधाओं को शामिल किया जा सकता है, जिसमें संगीत, नृत्य, विजुअल आर्ट और रंगमंच। कक्षा 6 से 8 तक के विद्यार्थियों को पाक कला की जानकारी दी जाएगी। जिससे वे पौष्टिक भोजन के महत्व को समझें। भारत में उगाई जाने वाली फसलों और मसालों के बारे में भी बताएं
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Source: Rajastahn
सीबीएसई में कक्षा 12वीं तक कला शिक्षा अनिवार्य