SBI एक जुलाई से Home Loan की ब्याज दरों को रेपो रेट से जोड़ देगा

0
1

नई दिल्ली। देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ( SBI ) एक जुलाई से अपने होम लोन ( Home Loan ) की ब्याज दरों को रेपो रेट ( repo rate )जोडऩे जा रहा है। बैंक के द्वारा जारी बयान के अनुसार 1 जुलाई से Repo rate से जुड़े Home Loan ऑफर किए जाएंगे। इसका मतलब यह हुआ कि जुलाई से SBI का होम लोन की दरें पूरी तरह रेपो रेट पर आधारित हो जाएगी। आपको बता दें कि RBI अपनी पिछली तीन द्वैमासिक मौद्रिक समीक्षा बैठक में 0.75 फीसदी की कटौती कर चुका है।
यह भी पढ़ेंः- गृह मंत्रालय और पीएमओ से सलाह के बाद मिलेगी 5G टेस्टिंग की मंजूरी
सस्ता होगा SBI का होम लोन RBI ने अपनी लगातार तीन मौद्रिक समीक्षा बैठकों में रेपो रेट में कुल मिलाकर 0.75 फीसदी की कटौती कर दी हैै। गुरुवार को लगातार तीसरी बार रेपो रेट में 0.25 फीसदी की कटौती की गई थी। जिसके बाद रेपो रेट 5.75 पर आ गया है। जिसकी वजह से एसबीआई का होम लोन भी लगातार सस्ता होगा। आपको बता दें कि अगर रेपो रेट स्थिर रहते हैं या फिर बढ़ोतरी होती हैं जो होम लोन की ब्याज बढ़ती या स्थिर ही रहती हैं।
यह भी पढ़ेंः- Today Petrol-diesel price: लगातार तीसरे दिन पेट्रोल और डीजल हुआ सस्ता, जानिए अपने शहर के दाम
इन ब्याज दरों को भी रेपो रेट में जोड़ चुका है SBI एसबीआई अपने शॉर्ट टर्म लोन और बड़ी जमा राशि की ब्याज दरों को पहले ही रेपो रेट से जोड़ चुका है। रेपो रेट पर आरबीआई, वाणिज्यिक बैंकों को एक दिन के लिए नकदी उधार देता है। रेपो रेट कम होने पर कमर्शियल बैंकों के लिए धन सस्ता होता है और वे ब्याज कम करने की स्थिति में होते हैं। जिसके बाद आम लोगों को सस्ता कर्ज मिलने लगता है। उम्मीद की जा रही है एसबीआई के इस कदम के बाद बाकी बैंक भी अपने होम लोन को कम करने के बारे में सोचेंगे।Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार, फाइनेंस, इंडस्‍ट्री, अर्थव्‍यवस्‍था, कॉर्पोरेट, म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App.
Source: business patrika
SBI एक जुलाई से Home Loan की ब्याज दरों को रेपो रेट से जोड़ देगा