SBI करने जा रहा 423 करोड़ रुपए की वसूली, NPA खातों की बिक्री के लिए मांगा रुचि पत्र

0
35

नई दिल्ली। भारतीय स्टेट बैंक ( एसबीआई ) ने 423 करोड़ रुपए से अधिक बकाए की वसूली के लिए बड़ा कदम उठाने जा रहे हैं। बैंक ने दो गैर-निष्पादित परिसंपत्तियों की बिक्री के लिए परिसंपत्ति पुनर्गठवन कंपनियों और वित्तीय संस्थानों से रुचि पत्र मांगा है।
SBI ने मांगा रुचि पत्र
एसबीआई ( SBI ) ने एक रुचि पत्र ( ईओआई ) आमंत्रण में कहा कि कमाची इंडस्ट्रीज और एसएनएस स्टार्च के एनपीए खातों की ई-नीलामी 25 अप्रैल 2019 को होनी है। बैंक ने कहा कि नियामकीय दिशा-निर्देशों के अनुरूप वित्तीय संपत्ति की बिक्री को लेकर बैंक की नीति के तहत हम इन खातों को संपत्ति पुनर्गठन कंपनियों (एआरसी), बैंक, एनबीएफसी, वित्तीय संस्थानों के समक्ष रखेंगे।
इन कंपनियों का है इतना बकाया
एसबीआई का स्टील निर्माता कमाची इंडस्ट्रीज पर 364.80 करोड़ रुपए जबकि एसएनएस स्टार्च पर 58.87 करोड़ रुपए का बकाया है। कमाची इंडस्ट्रीज की बिक्री के लिए 165 करोड़ रुपए और एसएनएस स्टार्च के लिए 36.56 करोड़ रुपए का मूल्य आरक्षित किया गया है।
बैंकों ने दी जानकारी
बैंक ने कहा कि इच्छुक बैंक, संपत्ति पुनर्गठन कंपनियां, गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियां या वित्तीय संस्थान रुचि पत्र जमा करने तथा खुलासा नहीं करने का समझौता करने के बाद इन खातों की तत्काल प्रभाव से जांच पड़ताल कर सकते हैं। बैंक ने कहा कि यह बिक्री 100 फीसदी नकदी के आधार पर होगी।
Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार,फाइनेंस,इंडस्‍ट्री,अर्थव्‍यवस्‍था,कॉर्पोरेट,म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App.
Source: business patrika
SBI करने जा रहा 423 करोड़ रुपए की वसूली, NPA खातों की बिक्री के लिए मांगा रुचि पत्र