SBI को अपने 1600 करोड़ रुपए की चिंता नही, जेट एयरवेज का कर्ज नजरअंदाज करने लायक: चेयरमैन

0
6

नई दिल्ली। भातरीय स्टेट बैंक (एसबीआई) के चेयमैन रजनीश कुमार ने कहा कि जेट एयरवेज में फंसा एसबीआई का पैसा चिंता का कोई कारण नहीं है, क्योंकि यह रकम करीब 1,600 करोड़ रुपये है, जोकि बैंक की कुल एनपीए का महज सात आधार अंक (बीपीएस) है। उन्होंने इस बात से इनकार किया कि देश के सबसे बड़े कर्जदाता बैंक की रकम जेट एयरवेज में फंस जाने से कोई चिंता नहीं है। वहीं, एनपीए से संबंधित दूसरे प्रमुख खाते, आईएलएंडएफ के खाते के संबंध उन्होंने कहा कि इस खाते में 50 फीसदी रकम की प्रोविजनिंग की गई है। आईएलएंडएफएस में बैंक की 3,487 करोड़ रुपये की रकम फंसी हुई है।
ये भी पढ़ें: अमीरों को नहीं भा रहा देश का रहन-सहन, भारत ने 1 साल में गवाई 35000 करोड़ से ज्यादा की रकम
नजरअंदाज करने वाली रकमएसबीआई चेयरमैन ने कहा कि , “जेट एयरवेज में फंसी कुल रकम हमारे सकल एनपीए का सात बीपीएस है। इसलिए यह चिंता की बात नहीं है। 23 लाख करोड़ रुपये कर्ज की बही में 1,600 करोड़ रुपये सकल एनपीए का महज सात बीपीएस है। इसलिए इसे नजरंदाज किया जा सकता है।” कुमार ने कहा कि जेट एयरवेज में फंसी रकम की बात भी नहीं की जा सकती है। उन्होंने कहा कि बैंक ने एस्सार और दो अन्य खातों के लिए 100 फीसदी प्रोविजनिंग की है। एसबीआई के प्रबंध निदेशक अभिजीत बसु ने कहा, “आईएलएंडएफएस के लिए एनपीए की पहचान आरबीआई के मानकों के अनुसार किया गया है। हमने सभी होल्डिंग कंपनियों में 50 फीसदी की प्रोविजनिंग की है। इसमें 3,487 करोड़ रुपये फंसी हुई और इसमें एनपीए 1,125 करोड़ रुपये है।
ये भी पढ़ें: शनिवार को पेट्रोल-डीजल की कीमतों में आम जनता को मिली राहत, जानिए अपने शहर के दाम
हाल ही में घटाया MCLR
हालांकि हाल ही में SBI ने मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट (MCLR) में 0.05 फीसदी की कटौती की है, जिसके बाद लोन लेने वाले ग्राहकों राहत मिली है। एक साल के कर्ज पर एमसीएलआर 8.50 फीसदी से घटाकर 8.45 फीसदी पर आ गई हैं। अब आपको पहले की तुलना में कम ईएमआई देनी होगी।
Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार,फाइनेंस,इंडस्‍ट्री,अर्थव्‍यवस्‍था,कॉर्पोरेट,म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App
Source: business patrika
SBI को अपने 1600 करोड़ रुपए की चिंता नही, जेट एयरवेज का कर्ज नजरअंदाज करने लायक: चेयरमैन